Join Sai Baba Announcement List


DOWNLOAD SAMARPAN - Nov 2018





Author Topic: बाबा को खुशालचंद की चिंता (Real Story Shri Sai Baba Ji with mp3 audio)  (Read 1507 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Offline spiritualworld

  • Member
  • Posts: 117
  • Blessings 0
    • Indian Spiritual & Religious Website
[youtube=480,360]http://www.youtube.com/watch?v=jyAq-QpNNTU[/youtube]


शिरडी से कुछ दूरी पर रहाता गांव था| वहां खुशालचंद नाम का एक साहूकार रहता था| बाबा इससे भी तात्या जितना प्रेम किया करते थे| वह जाति से मारवाड़ी था| उसके चाचा चंद्रभान पर भी बाबा का बड़ा प्रेम था| उनसे मिलने के लिए बाबा कई बार उनके गांव खुद चले जाते थे|

बाबा कभी-कभी अकेले और कभी अपने भक्तों के साथ बैलगाड़ी में तो कभी तांगे में बैठकर रहाता चले जाते| जैसे ही बाबा गांव की सीमा पर पहुंचते, रहाता ग्रामवासी उनका अभूतपूर्व स्वागत करते और बड़ी धूमधाम से उन्हें गांव के अंदर ले जाते| वहां से खुशालचंद बाबा को घर ले जाते, आसन पर बैठाकर उत्तम भोजन कराते| फिर काफी समय तक वह बाबा से वार्तालाप करते| इस वार्तालाप के दौरान वहां उपस्थित सभी भक्तों को बहुत आनन्द आता| बाद में बाबा सबकी अपना आशीर्वाद देकर शिरडी लौट आते थे|

खुशालचंद भी अक्सर साईं बाबा से मिलने के लिए शिरडी आता था| एक समय जब वह बहुत दिनों तक शिरडी नहीं आया तो बाबा ने उसे बुलाने के लिए हरीसिंह दीक्षित को तांगे के साथ भेजा| जब दीक्षित ने उसे जानकारी दी कि बाबा ने उसे लाने के लिए तांगा देकर भेजा है तो यह सुनते ही उसकी आँखों में आँसू आ गये और वह तुरंत उसके साथ शिरडी आया|


Source: http://spiritualworld.co.in/an-introduction-to-shirdi-wale-shri-sai-baba-ji-shri-sai-baba-ji-ka-jeevan/shri-sai-baba-ji-ki-lilaye/1594-sai-baba-ji-real-story-baba-ko-kushhalchand-ki-chinta.html
« Last Edit: May 28, 2012, 06:44:42 AM by spiritualworld »
Love one another and help others to rise to the higher levels, simply by pouring out love. Love is infectious and the greatest healing energy. -- Shri Sai Baba Ji

 


Facebook Comments