Join Sai Baba Announcement List


DOWNLOAD SAMARPAN - Nov 2018





Author Topic: साईं बाबा 95 किलो के स्वर्ण सिंहासन पर विराजे~~~  (Read 3442 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Offline tana

  • Member
  • Posts: 7074
  • Blessings 139
  • ~सांई~~ੴ~~सांई~
    • Sai Baba
ॐ सांई राम~~~

साईं बाबा 95 किलो के स्वर्ण सिंहासन पर विराजे~~~
 
शिरडी के साईं बाबा की प्रतिमा को रविवार को 95किलोग्राम के सोने के सिंहासन पर बैठाया गया। हैदराबाद के एक श्रद्धालु ने इस सिंहासन को शनिवार को मंदिर ट्रस्ट को दान में दिया।

शिरडीसंस्थान के वरिष्ठ न्यासी अशोक खांबेकडने बताया कि सिंहासन दान देने वाले आनंदीनारायणरेड्डी, उनकी पत्नी सुलोचना एवं पुत्र महेश और गिरीश इस अवसर पर आयोजित विशेष पूजा [पाध्या] में शामिल हुए। उन्होंने बताया कि जाने माने स्वर्णकार ए अलगरराजा के 50कारीगरों ने लगभग दो माह में इस सिंहासन को तैयार किया है।

खांबेकडने बताया कि दो तरफ सिंह की आकृति वाले इस सिंहासन का मुख्य आकर्षण फूल अर्पित करती दो महिलाओं की मूर्ति है। उन्होंने बताया कि 28जुलाई को गुरुपूर्णिमा के अवसर पर हैदराबाद के ही एक भक्त विजय कुमार ने बाबा के मंदिर के कलश को मढने के लिए सोने की एक चादर दान दी थी।

उन्होंने बताया कि वर्तमान में साईं बाबा के मंदिर में 122किलोग्राम स्वर्ण और दो हजार 167किलोग्राम चांदी है। इसके पहले भक्त सोने का मुकुट, पादुका एवं स्वर्ण पात्र दान दे चुके हैं। इस अवसर पर श्री रेड्डी ने कहा कि उनकी इच्छा है कि अगले वर्ष तक बाबा के मंदिर के दीवारों पर अमृतसर के स्वर्ण मंदिर और तिरुपतिके बाला जी मंदिर के समान सोना मढने की है।

जय सांई राम~~~
 
« Last Edit: January 10, 2008, 05:46:02 AM by tana »
"लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

" Loka Samasta Sukino Bhavantu
Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

Offline MANAV_NEHA

  • Member
  • Posts: 11306
  • Blessings 32
  • अलहा मालिक
    • SAI BABA
THANKS TANA DI FOR SHARING

AGAR MR REDDY KE MAN MEIN YEH KHAYAL AAYA HAI, TOH BABA KI MEHER RAHI TOH UNKI YEH ABHILASHA JARUR POORI HOGI..SAIRAM :)
गुरूर्ब्रह्मा,गुरूर्विष्णुः,गुरूर्देवो महेश्वरः
गुरूर्साक्षात् परब्रह्म् तस्मै श्री गुरवे नमः॥
अखण्डमण्डलाकांरं व्याप्तं येन चराचरम्
तत्विदं दर्शितं येन,तस्मै श्री गुरवे नमः॥


सबका मालिक एक

 


Facebook Comments