Join Sai Baba Announcement List


DOWNLOAD SAMARPAN - Nov 2018





Author Topic: एक पत्र बाबा को  (Read 4117 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Offline arti sehgal

  • Member
  • Posts: 1245
  • Blessings 5
  • sai ke charno me koti koti pranam
एक पत्र बाबा को
« on: January 21, 2011, 04:45:28 AM »
  • Publish
  •   एक पत्र बाबा को                         
                                                                                                                                                         शिर्डी
                                                                                                                                                         दिनक : 21/ 01/2011

    आदरणीय साईंबाबा जी
                                       कैसे है आप . आप की कृपा से हम कुशल मंगल है . आज दिल करा आपको पत्र लिखने  का . बाबा आपका मेरे जीवन में आना मेरी खुशनसीबी है . आप मेरे जीवन का  वो  अनमोल रतन हो जिसे में अपनी आँखों में और दिल में छुपा कर रखना चाहती हूँ . आपकी महानता , प्यार और विश्वास मेरी आत्मा में बसते है . आप मेरा स्वाभिमान  हो . आपकी करूणा , दया , आशीर्वाद , संतोष , सबर मेरे जीवन का धन है . आपने अपने चरण कमलो में जगा देकर मेरा जीवन तार - तार कर दिया . आपकी द्रिस्टी मेरे मन को छु जाती है  . आपका ममता भरा आचल मेरे जीवन की तीखी धूप को ठंडी छाव देता है . श्रद्धा और सबुरी  का पाठ  मुझे सही  राह  दिखाता है . साईंसत्चरित्र की लीलाए आपके होने का अहसास दिलाती है . कहते है भगवान को पाना आसान नहीं पर मेरा बाबा तो इतना कोमल और नरम है मेरी एक ही आवाज़ से दोड़े चले आते है . बाबा मुझे हमेशा अपनी छतरछाया में रखना . मुझे इस संसार
    रुपी जाल से बचाकर रखना . हमेशा अपने आशीर्वाद की चादर मुझ पर मेरे परिवार पर और समर्पण परिवार पर बनाके रखना .
    आपके चरणों में मेरा कोटि कोटि प्रणाम .
                                                  बोलो सच्चीनानन्द सत्गुरू साईंनाथ महाराज की जय !!!
                                                                                                                                                                      आपकी भक्त
                                                                                                                                                                       

    sabke dil me baste hi ushe sai sai kehte hai
    jai sainath

     


    Facebook Comments