Join Sai Baba Announcement List


DOWNLOAD SAMARPAN - Nov 2018





Author Topic: POEMS  (Read 62984 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Offline tana

  • Member
  • Posts: 7074
  • Blessings 139
  • ~सांई~~ੴ~~सांई~
    • Sai Baba
Re: POEMS
« Reply #60 on: November 23, 2007, 05:34:34 AM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम~~~

    मां के सपने~~~

    मां तो आखिर मां होती है ,
    तुम्हारी हो , या फिर हमारी हो,
    या फिर पुरे भारत की ।
    जुटी रहती है दिन-रात
    ताकि पूरे हो सकें
    हमारे तुम्हारे प्यारे सपने ।
    ये अलग बात है कि
    उस मां के भी
    कुछ सपने होते हैं,
    जो उसके अपने होते हैं ।
    जिनकी उम्मीद में,
    पुरा होने की प्यास में,
    मां एक दिन मर जाती है ।
    सोचती हूँ,
    क्या कभी हम या तुम भी,
    अपनी मां के लिए,
    वह सब करते हैं,
    जो वह हमारे लिए
    कर जाती है ।

    जय सांई राम~~~
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #61 on: December 11, 2007, 08:01:47 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम़।।।

    कोमल कोमल पंखो वाली
    नभ को देखो छूने वाली
    रंगीनी बरसाने वाली
    प्यारी तितली आई है

    एक संदेशा लाई है
    हिन्दु मुस्लिम सिख ईसाई
    आपस मे है भाई- भाई
    सब संग मिलकर रहा करो
    प्यार सभी से किया करो
    सदाचार अपनाओ तुम
    भूलों को राह दिखाओ तुम

    हो भविष्य कल का तुम
    सच्चाई को अपनाओ
    जैसे रंग- बिरंगे पंख
    उस तितली से बन जाओ॥

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Sai ka Tej

    • Member
    • Posts: 244
    • Blessings 66
    • ஜ♥ஜஜ♥♥♥♥Sai Ram♥♥♥♥ஜஜ♥ஜ
    Re: POEMS
    « Reply #62 on: December 13, 2007, 02:52:09 AM »
  • Publish
  • JAI SAI RAM

    Will Be Together

    Smart and nice
    We will be together,
    Throw the rice
    It will last forever.

    Trust and love
    Forever and ever,
    We'll fly like doves
    We will be together.

    Joy and happiness
    There will come
    Sadness and madness
    There will be none

    I will make sure
    We will be together
    Safe and secure
    Forever and ever!

    SAI RAM
    ஜஜ♥ஜ♥♀♥♀♥ ♥♥♥♥Sai Ram♥♥♥♥  ♥♀♥♀♥ஜஜ♥ஜ

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #63 on: December 18, 2007, 12:03:17 AM »
  • Publish
  • Om Sai Ram~~~

    DON'T GIVE UP~~~

    Don't give up
    Don't give in
    You have the desire
    Inside you to win~~~

    The obstacles you face
    Are monstrous, I know
    You have the power
    To not let the emotion show~~~

    So when the journey is hard
    And all your strength is gone
    Look to the Lord
    And He'll keep you strong~~~

    Jai sai Ram~~~
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Sai ka Tej

    • Member
    • Posts: 244
    • Blessings 66
    • ஜ♥ஜஜ♥♥♥♥Sai Ram♥♥♥♥ஜஜ♥ஜ
    Re: POEMS
    « Reply #64 on: December 21, 2007, 10:35:31 PM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम~~~

    मां के सपने~~~

    मां तो आखिर मां होती है ,
    तुम्हारी हो , या फिर हमारी हो,
    या फिर पुरे भारत की ।
    जुटी रहती है दिन-रात
    ताकि पूरे हो सकें
    हमारे तुम्हारे प्यारे सपने ।
    ये अलग बात है कि
    उस मां के भी
    कुछ सपने होते हैं,
    जो उसके अपने होते हैं ।
    जिनकी उम्मीद में,
    पुरा होने की प्यास में,
    मां एक दिन मर जाती है ।
    सोचती हूँ,
    क्या कभी हम या तुम भी,
    अपनी मां के लिए,
    वह सब करते हैं,
    जो वह हमारे लिए
    कर जाती है ।

    जय सांई राम~~~



     :) :) :) Good one Maa...

    ஜஜ♥ஜ♥♀♥♀♥ ♥♥♥♥Sai Ram♥♥♥♥  ♥♀♥♀♥ஜஜ♥ஜ

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #65 on: December 22, 2007, 04:06:15 AM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम~~~

    टीचर बनी बिल्ली मौसी~~~

    टीचर बनी गई बिल्ली मौसी
    खींचे कान हो बात ज़रा सी,
    कॉपी ले कर मोर आया
    बगोला भी नया बस्ता लाया,
    बिल्ली मौसी लगी पढ़ाने
    ढ़ग से पढ़ना कोई ना जाने,
    बिल्ली मौसी है परेशान
    कैसे पकङू इनके कान?
    चूहे की तो शामत आई
    जमकर कान की हुई खिंचाई,
    बिल्ली मौसी कान ना पकङो
    बात बात पर यूँ ना बिगङो~~~

    जय सांई राम~~~
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #66 on: December 27, 2007, 08:23:31 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम़।।।

    उठो लाल अब आँखें खोलो

    उठो लाल अब आँखें खोलो
    पानी लायी हूँ, मुँह धोलो

    बीती रात कमल-दल फूले
    उनके ऊपर भँवरे झूले

    चिड़िया चहक उठीं पेड़ों पर
    बहने लगी हवा अति सुन्दर

    भोर हुई सूरज उग आया
    नभ में हुई सुनहरी काया

    आसमान में लाली छाई
    ठंडी हवा बही सुखदाई

    नन्हीं-नन्हीं किरणें आयीं
    फूल हँसे कलियाँ मुसकायीं

    इतना सुन्दर समय ना खोओ
    मेरे प्यारे अब मत सोओ

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #67 on: December 27, 2007, 01:36:27 PM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम~~~


    और गधे ने गाया गान

    लाठी लेकर भालू आया
    चम चम चम
    ढोल बजाता मेंढक आया
    ढम ढम ढम
    मेंढक ने ली मीठी तान
    और गधे ने गाया गान

    जय सांई राम~~~
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #68 on: December 28, 2007, 11:22:55 PM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम~~~

    वसंत ऋतु~~~

    देखो-देखो आई -आई
    अब वसंत ऋतू आई ~
    पेड़-पेड़ पर फूल खिले
    जैसे हो सब रंग मिले ~~


    वसंत ऋतू की हवा निराली
    झूम रही हर डाली-डाली ~
    आओ सखी हम नाचे गायें ,
    रंगों का त्यौहार मनाएँ~~


    भेद-भाव सब को भुलाकर
    एक नई दुनिया रचाएं~
    देखो-देखो आई -आई
    अब वसंत ऋतू आई~~~

    जय सांई राम~~~
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #69 on: January 05, 2008, 06:17:38 AM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम~~~

    मैं सबसे छोटी होऊँ~~~

    मैं सबसे छोटी होऊँ,
    तेरी गोदी मैं सोऊँ,
    तेरा अचल पकङ-पकङकर,
    फिरूँ सदा माँ! तेरे साथ,
    कभी न छोङूँ तेरा हाथ!
    बङा बना कर पहले हमको
    तू पीछे छलती है मात!
    हाथ पकङ फिर सदा हमारे
    साथ नहीं फिरती दिन-रात!
    अपने कर में खिला,धुला मुख,
    धूल पोंछ,सज्जित कर गात,
    थमा खिलौने नहीं सुनाती,
    हमें सुखद परियों की बात!
    ऐसी बङी न होऊँ मैं
    तेरा स्नेह न खोऊँ मैं,
    तेरे आचल की छाया में
    छिपी रहूँ निस्प्रह,निर्भय,
    कहूँ-दिखा डे चन्द्रोदय!

    सुमित्रानंदन पंत

    जय सांई राम~~~
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #70 on: January 07, 2008, 01:42:54 AM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम~~~

    कहां रहेगी चिड़िया / महादेवी वर्मा
                   
    कहां रहेगी चिड़िया ?
    आंधी आई जोर शोर से
    डाली टूटी है झकोर से
    उड़ा घोंसला बेचारी का
    किससे अपनी बात कहेगी
    अब यह चिड़िया कहाँ रहेगी ?
    घर में पेड़ कहाँ से लाएँ
    कैसे यह घोंसला बनाएँ
    कैसे फूटे अंडे जोड़ें
    किससे यह सब बात कहेगी
    अब यह चिड़िया कहाँ रहेगी ?


    जय सांई राम~~~
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #71 on: January 07, 2008, 02:01:45 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    THE LOTUS OF MY HEART AT THE FEET OF SHRI SAI

    The Lotus flower of my heart,
    At your feet I offer you BABA SAI.

    The depth of it only you can see,
    For you are love my dear Dear Sai.

    Your love has opened my rough outer,
    And revealed the silent beauty pure.

    The joy this gives is so profound,
    The love unexpressed is finally found.

    Your eyes of love take me still deeper,
    To touch the ground of infinite bliss.

    Giving me everything I always longed for,
    Your grace is unending my Dear BABA SAI.

    Your delicate love has healed my sense,
    Revealing to me the wholeness of being.

    The precious gift that you have showered on me,
    Is un-understandable by the normal human mind.

    All I can say to you dear Sai,
    Thank you I love you my very own Sai.

    The flower of this heart is eternally yours,
    Mould it as you wish for I am yours Dear BABA SAI.

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई
    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #72 on: January 10, 2008, 05:43:46 AM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम~~~

    मीठी बोली~~~

    कुहू-कुहूकर कोयल बोली
    कानों में मिसरी –सी घोली ।
    बाग़ बगीचे गूँज उठे हैं ,
    नाच उठी बच्चों की टोली ।।

    डोल रही है डाल-डाल पर ,
    सबके मन में खुशियाँ भरती ।
    मीठे प्यारे गीत सुनाकर ,

    सबको अपने वश में करती ॥
    ‘जब मुँह खोलो मीठा बोलो’-
    कोयल सबसे कहती है ।
    मीठी बोली में जीवन की
    सारी खुशियाँ रहती हैं ।।

    जय सांई राम~~~
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #73 on: January 14, 2008, 01:56:42 AM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम~~~

    सुन्दर प्यारा
    देश हमारा
    बहे यहाँ
    गंगा की धारा ।
    शीश हिमालय
    छूता अम्बर
    धोता है पग
    इसके सागर ।
    है सबकी –
    आँखों का तारा ।
    इस पर अपने
    प्राण लुटाएँ
    हम सब इसका
    मान बढ़ाएँ ।
    ‘भारत की जय !
    ‘भारत की जय’ !
    अपना नारा।

    जय सांई राम~~~
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: POEMS
    « Reply #74 on: January 14, 2008, 02:52:20 AM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम~~~

    मां के सपने~~~

    मां तो आखिर मां होती है ,
    तुम्हारी हो , या फिर हमारी हो,
    या फिर पुरे भारत की ।
    जुटी रहती है दिन-रात
    ताकि पूरे हो सकें
    हमारे तुम्हारे प्यारे सपने ।
    ये अलग बात है कि
    उस मां के भी
    कुछ सपने होते हैं,
    जो उसके अपने होते हैं ।
    जिनकी उम्मीद में,
    पुरा होने की प्यास में,
    मां एक दिन मर जाती है ।
    सोचती हूँ,
    क्या कभी हम या तुम भी,
    अपनी मां के लिए,
    वह सब करते हैं,
    जो वह हमारे लिए
    कर जाती है ।

    जय सांई राम~~~


    जय सांई राम।।।

    मोहब्बत तेरी याद है
    तेरी हर बात याद है
    साथ तू नहीं तो क्या
    साथ तेरी याद है

    मैं कहाँ था गर तू न होती
    तू ज़िन्दगी के चराग़ की बात है
    कल से आज तक का सफ़र
    जो तय किया है मैंने
    वो तेरी मोहब्बत की सौग़ात है

    माँ तू हर पल मेरे पास है…
    माँ तू हर पल मेरे पास है…

    तेरे आँचल की छाँव
    आज भी मेरे साथ है
    तेरी हर डाँट हर मार
    आज भी मुझे याद है
    तेरी वो नाराज़गी तेरी दुलार
    आज भी मुझे याद

    माँ तू हर क़दम मेरे साथ है…
    माँ तू हर क़दम मेरे साथ है…

    मोहब्बत तेरी याद है
    तेरी हर बात याद है
    साथ तू नहीं तो क्या
    साथ तेरी याद है

    सलामत रहे तू हमेशा
    बाबा से मेरी फ़रियाद है
    पाया जितना दुनिया में
    सब तुझ पर निसार है

    मैं कहाँ था गर तू न होती
    तू ज़िन्दगी के चराग़ की बात है
    मोहब्बत तेरी याद है
    माँ तू हर पल की नमाज़ है

    माँ तू हर पल मेरे पास है…
    माँ तू हर क़दम मेरे साथ है…

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई
    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

     


    Facebook Comments