Join Sai Baba Announcement List


DOWNLOAD SAMARPAN - Nov 2018





Author Topic: BABA RAHAM NAJAR BARSAA DO  (Read 14862 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Offline abhinav

  • Member
  • Posts: 850
  • Blessings 5
  • सबका मालिक एक।
Re: BABA RAHAM NAJAR BARSAA DO
« Reply #45 on: January 15, 2008, 12:06:19 PM »
  • Publish
  • का से कहूँ पीर जीया की, का को अपना दर्द कहूँ रे

    जिस साईं संग प्रीती लागी,वा साई संग कैसे रहूँ रे?

    उसका कोई रूप नही रे, ना कोई वा की मूरत रे,

    बस नैनों मे समा रखी है, मैने उसकी सूरत रे।

    वा साई है मोरी प्रीती, वा साई मेरा संगी रे,

    उस निराकार में डूब रह है, मोरा हर इक अंगी रे।

    मोरे मन मे आन बसो अब,छोडके आँख मिचोली रे,

    अब मोसे और सही ना जाए-तोरी ये ठीठोली रे।
    « Last Edit: January 15, 2008, 12:30:32 PM by abhinav »
    मी पापी-पतित धीमंद । 
    तारणें मला गुरुनाथा, झडकरी ।।
    मुझसा कोई पापी तेरे दर पे ना आया होगा।
    और जो आया होगा, खाली लौटाया ना होगा॥
    ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM

    Offline abhinav

    • Member
    • Posts: 850
    • Blessings 5
    • सबका मालिक एक।
    उपहार
    « Reply #46 on: January 16, 2008, 11:40:34 AM »
  • Publish
  • उपहार

    कोई लाता फल फूल तो,
    कोई चादर लाता है।
    तेरे दरबार में आने वाला,
    कोई उपहार तो लाता है।


    मैं निर्लज हूँ देखो कितना,
    तेरे दर जब आता हूँ-
    बस अश्कों की माला लेकर,
    खाली हाथ चला आता हूँ।


    मेघा ने जैसी करी थी बाबा,
    ऐसी मुझमे भक्ति नही है।
    दीक्षितवाडा बनवाने की भी,
    बाबा मुझमे शक्ति नही है।


    मैं चोलकर सा बेबस बाबा,
    तुमको क्या दे पाऊँ?
    सोचता हूँ उपहार में तुमको,
    अपना शीश नवाऊँ.......बाबा अपना शीश नवाऊँ.
    मी पापी-पतित धीमंद । 
    तारणें मला गुरुनाथा, झडकरी ।।
    मुझसा कोई पापी तेरे दर पे ना आया होगा।
    और जो आया होगा, खाली लौटाया ना होगा॥
    ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM

    Offline saisumiran

    • Member
    • Posts: 135
    • Blessings 1
    Re: BABA RAHAM NAJAR BARSAA DO
    « Reply #47 on: January 17, 2008, 11:51:23 AM »
  • Publish
  • jai sai ram
    jai sai ram
    jai sai ram
    jai sai ram
    jai sai ram
    have mercy on me

    Offline saisewika

    • Member
    • Posts: 1549
    • Blessings 33
    Re: BABA RAHAM NAJAR BARSAA DO
    « Reply #48 on: January 18, 2008, 02:43:09 PM »
  • Publish
  • उपहार

    कोई लाता फल फूल तो,
    कोई चादर लाता है।
    तेरे दरबार में आने वाला,
    कोई उपहार तो लाता है।


    मैं निर्लज हूँ देखो कितना,
    तेरे दर जब आता हूँ-
    बस अश्कों की माला लेकर,
    खाली हाथ चला आता हूँ।


    मेघा ने जैसी करी थी बाबा,
    ऐसी मुझमे भक्ति नही है।
    दीक्षितवाडा बनवाने की भी,
    बाबा मुझमे शक्ति नही है।


    मैं चोलकर सा बेबस बाबा,
    तुमको क्या दे पाऊँ?
    सोचता हूँ उपहार में तुमको,
    अपना शीश नवाऊँ.......बाबा अपना शीश नवाऊँ.



    ओम साईं राम

    तेरा साईं के दर पर
    आना ही बहुत है
    श्रद्धा से एक फूल
    चढाना ही बहुत है

    प्रेम में जो ताज महल
    बनवातें हों बनवाएं
    तेरा तो एक शीश
    झुकाना ही बहुत है

    साईं की नज़रों में
    हर भक्त ही है खास
    मालिक को इस दिल में
    बैठाना ही बहुत है

    नवधा भक्ति की उसको
    कोई नहीं दरकार
    तेरा तो बस उससे
    लौ लगाना ही बहुत है

    जय साईं राम

    Offline etgirl

    • Member
    • Posts: 2050
    • Blessings 9
    Re: BABA RAHAM NAJAR BARSAA DO
    « Reply #49 on: January 18, 2008, 03:08:37 PM »
  • Publish
  • very nice abhinavji,keep it up

    sai ram sai shyam

    Offline abhinav

    • Member
    • Posts: 850
    • Blessings 5
    • सबका मालिक एक।
    Re: BABA RAHAM NAJAR BARSAA DO
    « Reply #50 on: January 18, 2008, 10:41:39 PM »
  • Publish
  • saisumiran ji, etgirl ji

    thank you veryyyyy much........thanks.

    saisewika ji, baba ke prati aisi divangi........................"aisi divangi dekhi nahi kahi".

    baba sada aap par raham najar rakhe!

    om sai ram
    मी पापी-पतित धीमंद । 
    तारणें मला गुरुनाथा, झडकरी ।।
    मुझसा कोई पापी तेरे दर पे ना आया होगा।
    और जो आया होगा, खाली लौटाया ना होगा॥
    ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM

    Offline abhinav

    • Member
    • Posts: 850
    • Blessings 5
    • सबका मालिक एक।
    Re: BABA RAHAM NAJAR BARSAA DO
    « Reply #51 on: January 20, 2008, 11:35:08 PM »
  • Publish
  • "यूँ आँसू बहाने से क्या होगा?

     खुद पे सितम ढाने से क्या होगा?

     जीतने के लिये दौडना जरुरी है,

     यूँ घुटने टिकाने से क्या होगा?
     
     कह दो सागर की लहरों से-
     
     हमें तैरना नही आता तो क्या

     हमारी नौका का माँझी है साँई,

     हमारी नौका को तुफानों से क्या होगा"


    मी पापी-पतित धीमंद । 
    तारणें मला गुरुनाथा, झडकरी ।।
    मुझसा कोई पापी तेरे दर पे ना आया होगा।
    और जो आया होगा, खाली लौटाया ना होगा॥
    ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM          ॐ साई राम          اوم ساي رام          ਓਮ ਸਾਈ ਰਾਮ          OM SAI RAM

    Offline MANAV_NEHA

    • Member
    • Posts: 11306
    • Blessings 32
    • अलहा मालिक
      • SAI BABA
    Re: BABA RAHAM NAJAR BARSAA DO
    « Reply #52 on: February 29, 2008, 01:23:48 PM »
  • Publish
  • OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
    OM SAI SRI SAI JAI JAI SAI
     
    गुरूर्ब्रह्मा,गुरूर्विष्णुः,गुरूर्देवो महेश्वरः
    गुरूर्साक्षात् परब्रह्म् तस्मै श्री गुरवे नमः॥
    अखण्डमण्डलाकांरं व्याप्तं येन चराचरम्
    तत्विदं दर्शितं येन,तस्मै श्री गुरवे नमः॥


    सबका मालिक एक

     


    Facebook Comments