Join Sai Baba Announcement List

DOWNLOAD SAMARPAN - APRIL 2016




Author Topic: THOUGHT FOR THE DAY  (Read 140534 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Offline Ramesh Ramnani

  • Member
  • Posts: 5501
  • Blessings 60
    • Sai Baba
Re: THOUGHT FOR THE DAY
« Reply #30 on: April 09, 2007, 09:04:37 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    आशा और निराशा... यह दो शब्द किसी भी इंसान की जिंदगी में ताउम्र साथ नहीं छोड़ते हैं। कभी आप आशावान होते हैं तो कभी आप पर निराशा की काली घटा छा जाती है। हर व्यक्ति अपने जीवन में सफल होना चाहता है, आपमें से न जाने कितने ऐसे होंगे जो सफलता प्राप्त करने के लिये जी-तोड़ मेहनत कर रहे होंगे... आप अपनी असफलता और निराशा को भुलाकर अपने अन्दर आसमां छूने की ख्वाहिश रखते हैं... तो स्वागत है छू लो आसमां को ...

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई
    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #31 on: April 10, 2007, 02:59:32 AM »
  • Publish

  • जय सांई राम

    आशा और निराशा... यह दो शब्द किसी भी इंसान की जिंदगी में ताउम्र साथ नहीं छोड़ते हैं। कभी आप आशावान होते हैं तो कभी आप पर निराशा की काली घटा छा जाती है। हर व्यक्ति अपने जीवन में सफल होना चाहता है, आपमें से न जाने कितने ऐसे होंगे जो सफलता प्राप्त करने के लिये जी-तोड़ मेहनत कर रहे होंगे... आप अपनी असफलता और निराशा को भुलाकर अपने अन्दर आसमां छूने की ख्वाहिश रखते हैं... तो स्वागत है छू लो आसमां को ...

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई
    ॐ सांई राम।।।

    om sai ram...

    DON'T EXPECT ANYTHING FROM LIFE ,
    EXPECTATIONS HURT.
    WHEN YOU DON'T EXPECT, EVERY MOMENT ,
    EVERYTHING IS A SURPRISE N EVERY SURPRISE BRINGS HAPPINESS...


    jai sai ram...
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Sai ka Tej

    • Member
    • Posts: 244
    • Blessings 66
    • ஜ♥ஜஜ♥♥♥♥Sai Ram♥♥♥♥ஜஜ♥ஜ
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #32 on: April 11, 2007, 04:55:48 AM »
  • Publish
  • jai sai ram.

    Thanx Ramesh uncle

    A CRITIC IS ONE WHO KNOWS THE PRICE OF EVERYTHING BUT THE VALUE OF NOTHING.

    SAI BABA BLESS US WITH GOOD THOUGHTS.

    :) :) :D :D ;D ;D
    JAI SAI
    ஜஜ♥ஜ♥♀♥♀♥ ♥♥♥♥Sai Ram♥♥♥♥  ♥♀♥♀♥ஜஜ♥ஜ

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #33 on: April 12, 2007, 06:48:47 AM »
  • Publish
  • Om Sai Ram ~~~


    Life is neither a bed of roses nor a carpet of thorns,
    It's just what you make of it !~!


    Jai Sai Ram ~~~
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Sai ka Tej

    • Member
    • Posts: 244
    • Blessings 66
    • ஜ♥ஜஜ♥♥♥♥Sai Ram♥♥♥♥ஜஜ♥ஜ
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #34 on: April 13, 2007, 05:46:45 AM »
  • Publish
  • JAI SAI RAM!!!

    RUDENESS IS THE WEAK MAN'S IMITATION OF STRENGTH...

    :) :) :D :D ;D ;D
    SAI RAM...[/color][/glow]
    ஜஜ♥ஜ♥♀♥♀♥ ♥♥♥♥Sai Ram♥♥♥♥  ♥♀♥♀♥ஜஜ♥ஜ

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #35 on: April 13, 2007, 11:27:40 PM »
  • Publish
  • JAI SAI RAM!!!

    "Never Believe what the lines of your hand predict about your future, because people who dont have hands also have a future...Believe in yourself"

    OM SAI RAM!!!


    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #36 on: April 14, 2007, 10:02:44 AM »
  • Publish
  • JAI SAI RAM!!!

    When a simpleton abused him, Buddha listened to him in silence, but when the man had finished, asked him, "Son, if a man declined to accept a present offered to him, to whom would it belong?"  The man answered, "To him who offered it".  "My son", Buddha said, " I decline to accept your abuse.  Keep it for yourself:. 

    OM SAI RAM!!!
     
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #37 on: April 15, 2007, 01:19:12 AM »
  • Publish
  • JAI SAI RAM!!!

    Too many times we forget what we have and concentrate on what we don't have. What is one person's worthless object is another's prize possession. It is all based on one's perspective. Makes you wonder what would happen if we all gave thanks for all the bounty we have, instead of worrying about wanting more. Take joy in all you have, especially your family and friends.

    OM SAI RAM!!!

    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #38 on: April 15, 2007, 08:22:19 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    खुशी

    बहुत सी खुशियों में छिपी,
    अनदेखी, अनजानी सी खुशी जब,
    अचानक मिल जाती है,
    तब हर जगह हर पल,
    बस खुशी ही खुशी नज़र आती है।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #39 on: April 15, 2007, 11:46:10 PM »
  • Publish
  • om sai ram....


    IF YOU WAIT TO BE HAPPY YOU WILL WAIT FOREVER .
    BUT IF YOU START TO BE HAPPY YOU WILL BE HAPPY~~~


    jai sai ram...
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #40 on: April 16, 2007, 08:21:31 AM »
  • Publish
  • JAI SAI RAM!!!

    Life without love is like a tree without blossoms or fruit.

    OM SAI RAM!!!
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #41 on: April 17, 2007, 08:37:59 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    थोड़े-से सुख, थोड़े-से दुख, थोड़े सपने थोड़ी आशा!
    इनसे ही बनता है जीवन, ये ही जीवन की परिभाषा!!

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई
    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #42 on: April 17, 2007, 11:24:56 PM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    थोथा
     
    जो अगर कोई सोचता हो कि उसने बहुत सारी पोथियाँ पढ़ रखी हैं, और बहुत सारे मुल्क देखे है,  और आलिमों-फकीरों की सोहबत में बहुत सारी हिकमत सीख चुके हैं तो उन्हे सबसे पहले अपने ही दिल के भीतर झाँकना होगा और देखना होगा कि क्या वहाँ शांति है। अगर जो तुम्हें इस बात का गुमान हो कि तुम बहुत पहुँचे हुए ज्ञानी हो तो फिर अपने ही मन की ओर देखो कि क्या कभी दूसरों का सुख देख कर उसमें ईर्ष्या पैदा होती है। कभी दूसरों के जूतों के पास बैठ कर तुम्हें अपमान का बोध होता है या दूसरों की नाजायज हरकत देख कर ही सही, क्या तुम्हें गुस्सा आता है? तो फिर ऐसे ज्ञान और सिद्धि का क्या फायदा, क्योंकि बिल्कुल ठीक ऐसा ही उस शख्स के साथ भी होता है जिसने न कोई तालीम पाई, जो न कहीं घूमने निकला और जिसे न किसी ने धर्म की राह दिखाई। ऐसा ज्ञान थोथा है और सिर्फ हमारे-तुम्हारे अहंकार को बढ़ाने वाला है। 

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline saibetino1

    • Member
    • Posts: 304
    • Blessings 1
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #43 on: April 17, 2007, 11:29:08 PM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    थोथा
     
    जो अगर कोई सोचता हो कि उसने बहुत सारी पोथियाँ पढ़ रखी हैं, और बहुत सारे मुल्क देखे है,  और आलिमों-फकीरों की सोहबत में बहुत सारी हिकमत सीख चुके हैं तो उन्हे सबसे पहले अपने ही दिल के भीतर झाँकना होगा और देखना होगा कि क्या वहाँ शांति है। अगर जो तुम्हें इस बात का गुमान हो कि तुम बहुत पहुँचे हुए ज्ञानी हो तो फिर अपने ही मन की ओर देखो कि क्या कभी दूसरों का सुख देख कर उसमें ईर्ष्या पैदा होती है। कभी दूसरों के जूतों के पास बैठ कर तुम्हें अपमान का बोध होता है या दूसरों की नाजायज हरकत देख कर ही सही, क्या तुम्हें गुस्सा आता है? तो फिर ऐसे ज्ञान और सिद्धि का क्या फायदा, क्योंकि बिल्कुल ठीक ऐसा ही उस शख्स के साथ भी होता है जिसने न कोई तालीम पाई, जो न कहीं घूमने निकला और जिसे न किसी ने धर्म की राह दिखाई। ऐसा ज्ञान थोथा है और सिर्फ हमारे-तुम्हारे अहंकार को बढ़ाने वाला है। 

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।

    Sairam Bhaiji ,

     Sahi kha apne , bilkul sahi ...

    sai ram sai ram

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #44 on: April 18, 2007, 01:04:55 AM »
  • Publish
  • om sai ram...

    " IT ONLY TAKES A FEW SECONDS TO HURT PEOPLE YOU LOVE,
    AND IT CAN TAKE YEARS TO HEAL."

    jai sai ram...
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

     


    Facebook Comments