Join Sai Baba Announcement List


DOWNLOAD SAMARPAN - Nov 2018





Author Topic: THOUGHT FOR THE DAY  (Read 153917 times)

0 Members and 2 Guests are viewing this topic.

Offline Ramesh Ramnani

  • Member
  • Posts: 5501
  • Blessings 60
    • Sai Baba
Re: THOUGHT FOR THE DAY
« Reply #45 on: April 19, 2007, 01:05:30 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    राजकवि ने राजा से कहा, 'आपके शत्रु चिरंजीव हों।' यह विचित्र आशीर्वाद सुनकर राजा नाराज हो गया। इस पर राजकवि ने कहा, 'राजन आप यह आशीर्वाद सुनकर नाराज क्यों होते हैं? आपको तो प्रसन्न होना चाहिए।' राजा ने झुंझलाकर कहा, 'आप मेरे शत्रुओं को मंगलकामना दे रहे हैं।' इस पर राजकवि ने समझाया, 'राजन मैंने यह आशीर्वाद देकर आपका हित ही चाहा है। जब आपके शत्रु जीवित रहेंगे तो आप में बल, बुद्धि, पराक्रम और सावधानी जाग्रत रहेगी। राजा को सदा सावधान रहना चाहिए। सावधानी तभी रह सकती है जब शत्रु का भय हो। शत्रु के होने पर ही होशियारी आती है। इस प्रकार मैंने आपके शत्रुओं को नहीं,  आपको मंगलकामना दी है।'

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #46 on: April 19, 2007, 12:47:33 PM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    राजकवि ने राजा से कहा, 'आपके शत्रु चिरंजीव हों।' यह विचित्र आशीर्वाद सुनकर राजा नाराज हो गया। इस पर राजकवि ने कहा, 'राजन आप यह आशीर्वाद सुनकर नाराज क्यों होते हैं? आपको तो प्रसन्न होना चाहिए।' राजा ने झुंझलाकर कहा, 'आप मेरे शत्रुओं को मंगलकामना दे रहे हैं।' इस पर राजकवि ने समझाया, 'राजन मैंने यह आशीर्वाद देकर आपका हित ही चाहा है। जब आपके शत्रु जीवित रहेंगे तो आप में बल, बुद्धि, पराक्रम और सावधानी जाग्रत रहेगी। राजा को सदा सावधान रहना चाहिए। सावधानी तभी रह सकती है जब शत्रु का भय हो। शत्रु के होने पर ही होशियारी आती है। इस प्रकार मैंने आपके शत्रुओं को नहीं,  आपको मंगलकामना दी है।'

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।

    om sai ram...

    Forgive your enemies but remember their names...

    jai sai ram...
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Sai ka Tej

    • Member
    • Posts: 244
    • Blessings 66
    • ஜ♥ஜஜ♥♥♥♥Sai Ram♥♥♥♥ஜஜ♥ஜ
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #47 on: April 19, 2007, 09:00:58 PM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    थोड़े-से सुख, थोड़े-से दुख, थोड़े सपने थोड़ी आशा!
    इनसे ही बनता है जीवन, ये ही जीवन की परिभाषा!!

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई
    ॐ सांई राम।।।


    jai sai ram

    Ramesh uncle thank you so much .Baba nae sab kuch diya hai hum sab ko .Now how to use & how we take , depends on us.



    TIME AND TIDE WAIT FOR NO MAN..

     :) :D ;D

    sai ram
    ஜஜ♥ஜ♥♀♥♀♥ ♥♥♥♥Sai Ram♥♥♥♥  ♥♀♥♀♥ஜஜ♥ஜ

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #48 on: April 22, 2007, 12:33:17 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    जाति-पाति से बडा़ धर्म है।
    धर्म ध्यान से बडा़ कर्म है।
    कर्म-कांड से बड़ा मर्म है।
    मगर सबसे बड़ा यहां यह छोटा सा इन्सान है और अगर वह प्यार करे तो धरती स्वर्ग समान है।
                         
    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #49 on: April 23, 2007, 12:46:07 AM »
  • Publish
  • om sai ram...

    LIFE MEANS MISSING EXPECTED THINGS & FACING UNEXPECTED THINGS. WHEN YOU ARE RIGHT , NO ONE REMEMBERS , BUT WHEN YOU ARE WRONG ,  NO ONE FORGETS !!!

    THAT'S LIFE~~~~

    jai sai ram...
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline saibetino1

    • Member
    • Posts: 304
    • Blessings 1
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #50 on: April 23, 2007, 01:21:37 AM »
  • Publish
  • om sai ram...

    LIFE MEANS MISSING EXPECTED THINGS & FACING UNEXPECTED THINGS. WHEN YOU ARE RIGHT , NO ONE REMEMBERS , BUT WHEN YOU ARE WRONG ,  NO ONE FORGETS !!!

    THAT'S LIFE~~~~

    jai sai ram...


    OM SAI RAM OM SAI RAM,

        Jindagi ke Hazaro rang dekhe,
        Kuch Humane dekhe  aur
         kuch usne dekhe ,

             Pakdkar bhi nahin pakad saki ,
             Jo kuch tha ,Use na paa saki ,
             Dard -E-gam yahi ki Usne mujhe aankh bhar
             nahin dekha ||

               Khali panee par rang vo saare bhare meine
               Jo mujhe hasil thae , bas vahi ek rang nahin tha
               Jiski khawab Humne dekha   ||

       Aye Khuda ki tumhe mujh par taras nahin aata
       ankho ne  Khawab ko dekha
       magar tu  na  mujhe khush  rakh saka||
         

       
     Bhwagan se yahi Shikyat hum sab karte hai ... badi ajeeb baat hai jo mila uske liye thnx na khakar , jo nahin mila uska roona rota rahate hai ...


       Tab Bhagwan khate  hai ,

     Aye Na Shukar bande ,
      Tujhe meine apna Sara Asman bhi de do
      Tau bhi tau Roota hi rahega ,
       Kabhi tau kha akar mujhse ,
      Jo tumne  mujhe diya uska shukriya , shukriya||

     
    sai sai sai sai
    neelam
     

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #51 on: April 23, 2007, 01:29:51 AM »
  • Publish
  • om sai ram...

    LIFE MEANS MISSING EXPECTED THINGS & FACING UNEXPECTED THINGS. WHEN YOU ARE RIGHT , NO ONE REMEMBERS , BUT WHEN YOU ARE WRONG ,  NO ONE FORGETS !!!

    THAT'S LIFE~~~~

    jai sai ram...



    OM SAI RAM OM SAI RAM,

        Jindagi ke Hazaro rang dekhe,
        Kuch Humane dekhe  aur
         kuch usne dekhe ,

             Pakdkar bhi nahin pakad saki ,
             Jo kuch tha ,Use na paa saki ,
             Dard -E-gam yahi ki Usne mujhe aankh bhar
             nahin dekha ||

               Khali panee par rang vo saare bhare meine
               Jo mujhe hasil thae , bas vahi ek rang nahin tha
               Jiski khawab Humne dekha   ||

       Aye Khuda ki tumhe mujh par taras nahin aata
       ankho ne  Khawab ko dekha
       magar tu  na  mujhe khush  rakh saka||
         

       
     Bhwagan se yahi Shikyat hum sab karte hai ... badi ajeeb baat hai jo mila uske liye thnx na khakar , jo nahin mila uska roona rota rahate hai ...


       Tab Bhagwan khate  hai ,

     Aye Na Shukar bande ,
      Tujhe meine apna Sara Asman bhi de do
      Tau bhi tau Roota hi rahega ,
       Kabhi tau kha akar mujhse ,
      Jo tumne  mujhe diya uska shukriya , shukriya||

     
    sai sai sai sai
    neelam
     


    om sai ram...

    arreeeeeee waahhhhhhh....Neealm.....kya baat hai....

    BINA GAM KHUSHI KA KAIE PATA CHALE GAA?
    BINA ROYE HASI KA MAZA KAISE MILAE GAA?

    WOH JO BHI KARTA HAI VHI JANTA HAI ,
    AGAR HUM JAAN GAE TO USSE "KHUDA" KUN KAHE GAA.....

    BAS USS KHUDA KA ...HAR WAQT SHUKRIYAAAA........

    jai sai ram...
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #52 on: April 24, 2007, 02:06:41 AM »
  • Publish
  • om sai ram...

    EVERYONE HAS POTENTIAL ; YOU JUST HAVE TO DISCOVER IT....

    jai sai ram...
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #53 on: April 24, 2007, 10:22:37 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    मेरा जीवन दर्शन बडा सँक्षिप्त व सरल है ~
    " जीयो और जीने दो! खुश रहो और खुशी फैलाओ !"

    "बाबाईश्वर! आपकी कृपा से, मैँने अपनी इतनी जीवन यात्रा पूरी की है..आज तक इस प्रसाद को खाकर धन्य होता रहता हूँ !


    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    « Last Edit: April 24, 2007, 10:24:30 AM by Ramesh Ramnani »
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #54 on: April 24, 2007, 10:36:32 PM »
  • Publish
  • om sai ram...

    ~~~THINK POSITIVE ; IT'S GOOD FOR YOUR HEALTH~~~

    jai sai ram...
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #55 on: April 25, 2007, 08:39:52 AM »
  • Publish
  • JAI SAI RAM

    I asked BABA SAI to take away my pride.
    BABA said, No.
    It is not for me to take away, but for you to give it up.

    I asked BABA to make my handicapes whole.
    BABA said, No.
    Your spirit is whole, your body is only temporary   

    I asked BABA to grant me patience.
    BABA said, No.
    Patience is a by product of tribulations; it isn't granted, it is learned. 

    I asked BABA to give me happiness.
    BABA said, No.
    I give you blessings; Happiness is up to you.   

    I asked BABA to spare my pains.
    BABA said, No.
    Suffering draws you apart from worldly cares and brings you closer to ME.

    I asked BABA for all things that I might enjoy life.
    BABA said, No.
    I will give you life, so that you may enjoy all things.   

    I ask BABA to help me LOVE others, as much as HE loves me.
    BABA said...Ahhhh, finally you have the idea.

    If you love BABA, share love!

    THIS DAY IS YOURS DON'T THROW IT AWAY

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ SAI RAM
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #56 on: April 26, 2007, 12:28:10 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    एक जिज्ञासु और प्रतिभावान बालक एक ज्ञानी संत के पास पहुंचा और बोला, 'महात्मन! मेरी समस्या का समाधान कीजिए। मैं कई चीजों का अध्ययन करता रहता हूं पर उनमें से बहुत सी चीजें याद नहीं रह पातीं। मैं उन्हें भूल जाता हूं। मुझे लगता है मैं अज्ञानी और मूर्ख हूं।' इस पर संत मुस्कराए, फिर बोले, 'बेटे, क्या तुम्हें क्रोध आता है?'

    ' थोड़ा बहुत आता है, पर मैं उसे पचा जाता हूं।'

    ' क्या तुम दूसरों में दोष देखते हो?'

    ' एकदम नहीं'

    ' क्या तुम पहले बोलते हो फिर सोचते हो?'

    ' नहीं मैं सोच-समझकर बोलता हूं या चुप रह जाता हूं।'

    ' इसका अर्थ है कि तुम मूर्ख और अज्ञानी नहीं हो। अपने ऊपर भरोसा रखो। बाकी चीजें अपने आप तुम्हें याद होती जाएंगी।' 

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #57 on: April 26, 2007, 12:44:38 AM »
  • Publish
  • ॐ सांई राम!~!

    सच्ची शिक्षा वही है जो अनुभवो को सीखने की क्षमता रखे ।

    जय सांई राम!~!
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #58 on: April 26, 2007, 05:23:41 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    सभी बच्चों के लिये।

    अध्ययन का सूत्र


    वरतंतु ने आचार्य सुमेधु से पूछा, 'विद्याध्ययन का आधार तो बौद्धिक प्रखरता है पर आप जीवन को कठोर अनुशासन में बांधने की बात क्यों कहते हैं?' आचार्य सुमेधु बोले, 'वत्स, इसका उत्तर तुम्हें समय पर मिल जाएगा।' इस घटना के काफी दिनों बाद आचार्य अपने शिष्यों के साथ भ्रमण को निकले। सभी घूमते हुए गंगा तट पर आ गए। आचार्य ने वरतंतु से पूछा, 'क्या तुम जानते हो कि गंगा की यात्रा कहां से शुरू होती है?' वरतंतु ने छूटते ही उत्तर दिया, 'गंगा गोमुख से चलकर गंगासागर में विलीन होती है।' आचार्य ने फिर पूछा, 'यदि गंगा के ये दो किनारे न हों तो क्या यह इतनी लंबी यात्रा कर पाएगी?'

    वरतंतु ने कहा, 'बिल्कुल नहीं। तब तो इसकी जलराशि इधर-उधर बिखर कर रह जाएगी। लोग इससे मिलने वाले लाभों से वंचित रह जाएंगे, क्योंकि किनारे के टूटने पर कहीं बाढ़ के दृश्य नजर आएंगे तो कहीं सूखा दिखेगा।' अपने शिष्य के इस जवाब से संतुष्ट होकर आचार्य ने कहा, 'वत्स यही तुम्हारे प्रश्न का उत्तर है। अनुशासन के अभाव में विद्याथिर्यों के जीवन की ऊर्जा बिखर जाएगी। उनका शरीर और मन निस्तेज हो जाएगा। इससे लक्ष्य की प्राप्ति कठिन हो जाएगी। अनुशासन ही विद्याध्ययन के सत्य को आत्मसात करने का सूत्र है।'

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: THOUGHT FOR THE DAY
    « Reply #59 on: April 27, 2007, 08:27:36 AM »
  • Publish
  • JAI SAI RAM!!!

    "Fear does not have any special power unless you empower it by submitting to it."

    OM SAI RAM!!!

    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

     


    Facebook Comments