Join Sai Baba Announcement List


DOWNLOAD SAMARPAN - Nov 2018





Author Topic: मेरा साईं  (Read 4554 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Offline arti sehgal

  • Member
  • Posts: 1245
  • Blessings 5
  • sai ke charno me koti koti pranam
मेरा साईं
« on: January 29, 2011, 12:22:10 AM »
  • Publish
  •                                                                       मेरा साईं

                                              चुपके से दबे पैर  आऊ
                                               अपने बाबा को चुरा कर ले जाऊ
                                                सारे संसार से छुपा कर
                                                 उन्हें एक इकांत में लेआऊ
                                                 उनके  आँचल   के साथ अपना आँचल बाधलू
                                                 घंटो पहर उनको निहारती रहु
                                                 खूब सारी   बाते करती रहु
                                                  जी भर कर देखती रहु
                                                   बाबा के मन पसंद भोजन का भोग लगाऊ
                                                    उनका सुन्दर सा बिस्तर तेयार करके
                                                   उनके पेरों को हल्का हल्का दबाऊ
                                                    उन्हें मीठी से लोरी गागे सुनाऊ
                                                     अपनी आँचल की ओड़नी से
                                                     उन्हें मीठी से नीद कराऊ
                                                     सारी रात जागकर उनके सर को सहलाती रहु
                                                     सुबहा की पहली किरण से उन्हें उठाऊ
                                                      स्नान करा कर सुन्दर वस्त्र पहनाऊ
                                                       फूलो की महक से बाबा को सजाऊ
                                                        दूध और बादाम का भोग लगाऊ
                                                        फिर अपने आँचल में छुपा कर
                                                         उनको अपने स्थान पर ले जाऊ
                                                         बाबा ऐसी आँख मचोली का खेल हम खेलते रहे
                                                         आप मुझे और   मै   आपको दुनिया से चुरा ते रहे
                                                         जय साईंराम ..................
                                                         
                                                         
                                                     
                                                       
                                                   
                                                 
    sabke dil me baste hi ushe sai sai kehte hai
    jai sainath

    Offline shalabh

    • Member
    • Posts: 520
    • Blessings 4
    • Om Shree Sai Nathay
    Re: मेरा साईं
    « Reply #1 on: February 08, 2011, 09:54:37 AM »
  • Publish
  • SAMPARPIT   HO SAB  BHAV  MEREY

    GATIMAN  HO  KAR  BHI SHANT   CHIT  SEY

    KAREY  SIMRAN  AAPKA  GURGAAN

    SAI  AAP  HO  MAHAAN
    SHALABH     BHARADWAJ

     


    Facebook Comments