Join Sai Baba Announcement List

DOWNLOAD SAMARPAN - APRIL 2016




Author Topic: बाबा मुझे भी इंसान बना दो  (Read 6030 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Offline arti sehgal

  • Member
  • Posts: 1245
  • Blessings 5
  • sai ke charno me koti koti pranam
                                                                    बाबा मुझे भी इंसान बना दो
बाबा  मुझे इंसान बना दो
तेरे दर पर खड़ा हूँ
थक गया हूँ जीवन से
सर से सारा भार उतार दो ( बाबा ............इंसान बना दो )

झूठ , फरेब ,क्रोध  , मोह के
चक्रवीऊ में फसा हुआ हूँ
माया के जाल से
मुझे आज मुक्त करा दो ( बाबा .......................इंसान बना दो )

जीवन की तीखी धूप ने
मेरी  भावनाओं  को झुलस दिया है
इस तपती धूप पर
अपनी ठड़ी छाव बिछादो ( बाबा ....................इंसान बना दो )

करूणा , शमा  का वास
जीवन से मिट गया है
इस कठोर दिल को 
दया का पाठ पड़ा दो ( बाबा ............................इंसान बना दो )

धन दौलत की आस ने
बिखेर दिया है मुझे
इस टूटे हुए आईने को
समेट लो अपने हाथो में ( बाबा .............................इंसान बनना दो )

आज तेरे दर पर आया हो
खाली ना जाऊ गा
तेरे विश्वास को अपनी
आत्मा में बसाऊ गा
तुझे अपना बनाऊ गा
जीवन की हर ठोकर खायी है मैंने
अब ना अपनी गलती  दोराहुगा
थाम लुगा तेरा आचल
और इंसान बनके जाऊगा ( २)

जय साईंराम .......
 
sabke dil me baste hi ushe sai sai kehte hai
jai sainath

Offline PiyaSoni

  • Members
  • Member
  • *
  • Posts: 7676
  • Blessings 21
  • ੴ ਸਤਿ ਨਾਮੁ
OMSAIRAM
"नानक नाम चढदी कला, तेरे पहाणे सर्वद दा भला "

Offline Pratap Nr.Mishra

  • Member
  • Posts: 966
  • Blessings 4
  • राम भी तू रहीम भी तू तू ही ईशु नानक भी तू
                                                                    बाबा मुझे भी इंसान बना दो
बाबा  मुझे इंसान बना दो
तेरे दर पर खड़ा हूँ
थक गया हूँ जीवन से
सर से सारा भार उतार दो ( बाबा ............इंसान बना दो )

झूठ , फरेब ,क्रोध  , मोह के
चक्रवीऊ में फसा हुआ हूँ
माया के जाल से
मुझे आज मुक्त करा दो ( बाबा .......................इंसान बना दो )

जीवन की तीखी धूप ने
मेरी  भावनाओं  को झुलस दिया है
इस तपती धूप पर
अपनी ठड़ी छाव बिछादो ( बाबा ....................इंसान बना दो )

करूणा , शमा  का वास
जीवन से मिट गया है
इस कठोर दिल को 
दया का पाठ पड़ा दो ( बाबा ............................इंसान बना दो )

धन दौलत की आस ने
बिखेर दिया है मुझे
इस टूटे हुए आईने को
समेट लो अपने हाथो में ( बाबा .............................इंसान बनना दो )

आज तेरे दर पर आया हो
खाली ना जाऊ गा
तेरे विश्वास को अपनी
आत्मा में बसाऊ गा
तुझे अपना बनाऊ गा
जीवन की हर ठोकर खायी है मैंने
अब ना अपनी गलती  दोराहुगा
थाम लुगा तेरा आचल
और इंसान बनके जाऊगा ( २)

जय साईंराम .......
 




साईं राम

आरतीजी नमस्कार ,

बहुत ही सुख और शांति का एह्शास हो रहा था जब मै आप की
कविता को पढ़ रहा था.  सही मैंने मे उन सभी बातो का आपने
अपनी कविता मे जिक्र किया है जिसके  होने से इंसान सही मायने
मे इंसान कहलाने लायक होता है.

बाबा के विचारो को फेलाने मे आपकी ये कविता बहुत ही सहयोगी होगी .
सुंदर और सकारात्मक संदेस से ओत -प्रोत इस  कविता के लिए आपको
बहुत-बहुत धन्यबाद .

साईं राम

Offline tanu_12

  • Member
  • Posts: 3234
  • Blessings 19
  • "I AM HERE IN YOUR HEART"
OM SAI RAM

ARTI JI

BAHUT HI ACHI KAVITA HAI AUR JITANI SUNDAR YE KAVITA HAI UTANA HI ACHA USKA MEANING BHI HAI....

HOPE U WILL POST MORE... :D

MAY SAI MAA BLESS HELP AND GUIDE U

JAI SAI RAM


Man Ke Gehre Andhiyare Me "Sai" Naam Diye Jaisa

Give Light, and the darkness will disappear of itself...

Offline Pratap Nr.Mishra

  • Member
  • Posts: 966
  • Blessings 4
  • राम भी तू रहीम भी तू तू ही ईशु नानक भी तू
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम 
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम 
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम 
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम 
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम 
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम
ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम ॐ साई राम

Offline saiarvind3

  • Member
  • Posts: 7
  • Blessings 0
Re: बाबा मुझे भी इंसान बना दो
« Reply #5 on: December 20, 2013, 06:37:28 AM »
  • Publish
  • Nice Poem Arti Ji. Jai Sai Baba Ji Ki. OM SAI RAM OM SAI RAM OM SAI RAM OM SAI RAM

    Offline Gauri21

    • Member
    • Posts: 1013
    • Blessings 14
    • baba i love you
    Re: बाबा मुझे भी इंसान बना दो
    « Reply #6 on: December 20, 2013, 11:00:48 AM »
  • Publish
  • Nice poem .om sai ram.
    sai gauri

     


    Facebook Comments