Join Sai Baba Announcement List


DOWNLOAD SAMARPAN - Nov 2018





Author Topic: You are my inspiration  (Read 136976 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Offline Ramesh Ramnani

  • Member
  • Posts: 5501
  • Blessings 60
    • Sai Baba
Re: You are my inspiration
« Reply #240 on: April 01, 2007, 03:08:30 AM »
  • Publish
  • JAI SAI RAM!!!

    Forgive Me BABA
                For The Wrongs I Have Done.
                  For Anger, I Shouldn't Have
                    Against Anyone.
                      I Know I'm Weak BABA,
                       But I Love You, I really Do,
                        And In Spite Of My Weakness,
                         I Know You Love Me Too.

    Forgive Me For Not Reading Your Word,
    And For The Times That I Stray.
                   Forgive Me For Just Being Too Tired
                     When I Don't Take The Time To Pray.
                        Give Me The Strength, Oh! BABA,
                         To Do What I Should Each Day.
                           Let Your Love Shine Through Me
                            So Others Will Follow Your Way.
                              Even Though I've Failed You BABA,
                               I Know You'll Forgive Me,

    And This I Promise SAI,
    A Better Human Being I Will Be.           
                    For Your Presence Is In Me
                        Filling My Heart With Your Love,
                           And I Have Your Reassurance
                             You're Guiding Me From Shirdi.
                               I Love You BABA, And Thank You
                                 For the Blessings You Bestow,
    I Will Tell Others About You
    So Your Goodness They Too, Will Know !!!

    OM SAI RAM!!!
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #241 on: April 02, 2007, 09:01:40 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम़।।।

    कुछ नहीं चाहा है बाबा तुमसे
    पर तुम एक खूबसूरत मोड़ हो
    जहाँ ठहरने को मन करता है
    कुछ पल चुनने का मन करता है
    तुम्हारे साथ पास बैठने को मन करता है

    कुछ नहीं चाहा है तुमसे बाबा
    तुम एक लगाव हो
    जिसे कुछ सुनाने को मन करता है
    कुछ भी कहने को मन करता है
    तुम्हे पुकार बस हाँ हाँ हाँ और सिर्फ हाँ कहने को मन करता है
    कुछ नहीं चाहा है तुमसे बाबा
    तुम एक पर खूबसूरत मोड़ हो
    जहाँ ठहरने को मन करता है।
     
    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #242 on: April 05, 2007, 06:56:59 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    छत पर खडे हो सुर्यास्त देखते जब
    सहसा ही कोंधा विचार अंतरमन में
    एक रोज़ सुर्यास्त देखने तू नही होगा |

    आज यहां इस छत पर खडा है तू
    कल यहां इसपे खडा होगा कोई और |

    सोचा तब क्यों न कर दूं मैं अर्पित
    एक अश्रुपूरित श्रद्दांजली स्वयं को
    आ ही गया है स्मरण जब किसी बात का

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #243 on: April 05, 2007, 10:52:31 PM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    मेरी राधा बहन ने मुझे पर्सनल मैसेज किया जिसमे उसने वो बाते लिखी जो मेरे मन को छू सी गईं। उन्ही बातों को ध्यान में रखकर एक बार पुनः

    थोड़े-से सुख, थोड़े-से दुख, थोडे़ सपने थोडी़ आशा!   इनसे ही बनता है जीवन, ये ही जीवन की परिभाषा!! //

    जीवन मे हम सबको यूँ ही बस आना है,
    थोडा़ ठहर करके फिर सबको जाना है.
    थोडा़-सा हँसना, और थोडा़-सा रोना है,
    अपने-अपने कर्म हम सबको करना है.
    हर माँ को अपना एक घर बसाना है,
    अपने घरों के लिये पिता को कमाना है.
    जीवन हो अच्छा सो बच्चों को पढना है,
    बूढ़ों को मृत्यु का इन्तजार करना है.
    लोग आते-जाते हैं धरती को थमना है,
    रोशनी फैलाने को सूरज को उगना है.
    चाहे गिरे कोई पर्वतों को डटना है,
    रूक जाए सभी फिर भी हवा को तो चलना है.
    पानी जरूरी है नदियों को बहना है,
    सबके भोजन के लिये पौधों को बढना है.
    तारों को हर रात यूँ ही टिमटिमाना है,
    चंदा को हर पल यूँ ही घटना-बढना है.
    सदियों से आज तक सबने ही माना है,
    निश्चित है सब यहाँ! ना कुछ बदलना है!
    जीवन मे हम सबको यूँ ही बस आना है,
    थोडा़ ठहर करके फिर सबको जाना है!!

    अपना साई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #244 on: April 07, 2007, 12:30:21 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    दोस्ती से आज प्यार शर्माया है,
    "तेरी" चाहत ने कुछ ऐसा गज़ब जादू छाया है,
    खुदा से क्या "तुझे" मांगें,
    वो तो खुद आज मुझसे "तेरे" जैसा दोस्त मांगने आया है।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #245 on: April 09, 2007, 08:06:14 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    प्रेम है प्रेम केवल
    और कुछ नही
    जीवन का हर क्षण
    मोती सा मूल्यवान
    स्मृतियों के
    रेशमी धागे में पिरोया
    अपने बाबा को समर्पित

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline OmSaiRamNowOn

    • Member
    • Posts: 1447
    • Blessings 0
    • Trust in Me and your prayer shall be answered.
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #246 on: April 09, 2007, 10:24:08 AM »
  • Publish
  • Life Still Has A Meaning

    If there is a future there is time for mending-
    Time to see your troubles coming to an ending.

    Life is never hopeless however great your sorrow-
    If you're looking forward to a new tomorrow.

    If there is time for wishing then there is time for hoping-
    When through doubt and darkness you are blindly groping.

    Though the heart be heavy and hurt you may be feeling-
    If there is time for praying there is time for healing.

    So if through your window there is a new day breaking-
    Thank God for the promise, though mind and soul be aching,

    If with harvest over there is grain enough for gleaning-
    There is a new tomorrow and life still has meaning.

     
    Om Sai Ram !

    -Anju

    "Abandon all varieties of religion and just surrender unto Me. I shall deliver you from all sinful reactions. Do not fear."

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #247 on: April 10, 2007, 05:34:51 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    सब कुछ अर्पण

    सब कुछ अर्पण कर दिया।
    भक्ति रस है मेरे जिया।।
    सबके मालिक तुम कहलाते
    हम सबकी झोली भर जाते
    जनहित तुमने जहर पिया
    प्रभु चरणों की धूल लगाऊं
    अपना माथा तुझे झुकाऊ
    तुझे पुकारे ये हिया
    भक्ति रस है मेरा जिया।।
    सेवा मे गुजरे जीवन सारा
    हमको बस तेरा ही सहारा
    तुमने मेरा दुख लिया
    भक्ति रक है मेरा जिया।।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #248 on: April 10, 2007, 09:10:17 PM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    कल का किसको भरोसा। कल हो ना हो। आओ आज ही नही बल्कि अभी कह दें बाबा से कि बाबा हमको तुमसे बहुत प्यार है।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    « Last Edit: April 10, 2007, 09:14:47 PM by Ramesh Ramnani »
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #249 on: April 14, 2007, 10:44:23 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    कुछ इस तरह हमने ज़िन्दगी के दर्द को जी लिया,
    गम के सागर को दवा कड़वी समझकर पी लिया।
    ज़िन्दगी की राह कांटों से भरी थी यारा,
    गिरते, उठते और संभलते रास्ता तय कर लिया।
    कभी नई मंजिलें भी आयी कभी नई खुशियाँ मिली,
    रास्ते बदलते गये ज्यों ज्यों सफर हमने किया।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #250 on: April 15, 2007, 07:13:11 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    रात भर ये मोगरे की
    खुशबू कैसी थी
    अच्छा ! तो 'तुम' आये थे
    नींदों में मेरे ?

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline saibetino1

    • Member
    • Posts: 304
    • Blessings 1
    Re: You are my inspiration
    « Reply #251 on: April 15, 2007, 08:03:48 AM »
  • Publish
  • Om Sai Ram Om Sai Ram ,

               vaha bhaji apne mogre ki mahak li , magar mein tau Gulabo ki mahak mein unhe paya .

     Vaha SAI vaha SAI tere aane ka rang bada nirala hi hai .

    Sabko unki man ki khusboo se apne hoone ke EHSAAS DETE HOO

    sai sai sai
    neelam

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #252 on: April 15, 2007, 08:37:15 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    मेरे बाबा की बातें निराली तथा बहुत सहज सरल होती है।  मन की आंखे चाहियें उन्हें देखने के लिये,  मन के कान चाहियें उन्हें सुनने के लिये, मन का नाक चाहिये उनकी द्वारकामाई की धुनी की महक को सूंघनें के लिये। मन की जिव्हा चाहिये उनकी मिठास को महसूस करने के लिये। तभी तो मैं बार बार कहता हूँ अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #253 on: April 16, 2007, 03:28:58 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    रिश्ता
    मेरा तुम्हारा
    यां फिर चिरागों का हवाओं से,
    मुझे,
    हर पल ज़रूरत है "तुम्हारी",
    जलते रहने के लिये,
    धड़कते रहने के लिये,
    पर "तुम" आते हो
    और एक झोंके से
    बुझा जाते हो मुझे,
    फिर से नया बनके
    जलने को।
    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई
    ॐ सांई राम।।।
    « Last Edit: April 16, 2007, 03:32:56 AM by Ramesh Ramnani »
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #254 on: April 16, 2007, 10:41:13 PM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    रात भर ये मोगरे की
    खुशबू कैसी थी
    अच्छा ! तो 'तुम' आये थे
    नींदों में मेरे ?

    मेरे बाबा की बातें निराली तथा बहुत सहज सरल होती है।  मन की आंखे चाहियें उन्हें देखने के लिये,  मन के कान चाहियें उन्हें सुनने के लिये, मन का नाक चाहिये उनकी द्वारकामाई की धुनी की महक को सूंघनें के लिये। मन की जिव्हा चाहिये उनकी मिठास को महसूस करने के लिये। तभी तो मैं बार बार कहता हूँ अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।

    om sai ram...

    sach he bolte hai aap APNA SAI PYARA SAI SABSE NAYARA APNA SAI...

    bas BABA BABA BABA BABA....jaha bhi dekhu har jaghe tujhe he paau...tujhe he mehsoos karu...bas tu he tu ho SAI...MERE SAI DEVA ....

    yhe vardan do mere sai...

    jai sai ram...
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

     


    Facebook Comments