Join Sai Baba Announcement List


DOWNLOAD SAMARPAN - Nov 2018





Author Topic: You are my inspiration  (Read 136883 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Offline Ramesh Ramnani

  • Member
  • Posts: 5501
  • Blessings 60
    • Sai Baba
Re: You are my inspiration
« Reply #255 on: April 19, 2007, 05:10:31 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    तुम्हारी बात तुम्हारा मौन सुनेगा

    अपने मुख से निकले शब्द
    अर्थहीन लगते हैं
    अपना दर्द ही बेदर्द होता लगता है
    कुछ पल खामोश हो जाओ
    आंखें बंद कर अपने अन्दर देखो
    कहीं तुम्हारे अन्दर है
    जो तुम्हारी सुनता है
    वह तुम्हारा मौन है
    जो तुम्हारी पीड़ा हरने लगता है
    उसी तुम्हारी मेरी मौन में अपना सांई बसता है।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline saibetino1

    • Member
    • Posts: 304
    • Blessings 1
    Re: You are my inspiration
    « Reply #256 on: April 20, 2007, 03:08:46 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम

    तुम्हारी बात तुम्हारा मौन सुनेगा

    अपने मुख से निकले शब्द
    अर्थहीन लगते हैं
    अपना दर्द ही बेदर्द होता लगता है
    कुछ पल खामोश हो जाओ
    आंखें बंद कर अपने अन्दर देखो
    कहीं तुम्हारे अन्दर है
    जो तुम्हारी सुनता है
    वह तुम्हारा मौन है
    जो तुम्हारी पीड़ा हरने लगता है
    उसी तुम्हारी मेरी मौन में अपना सांई बसता है।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।


    sai ram Bhaiji

     Bahut Sahi ...

     Khamoshi shabdo se jaayda khati nazar aati hai
    meri doayein kuch chup chap se asar karti nazar aati hai  ll

     Prathanao ke shabd nahin hote , vo tau dil se nikalti nazar aati hai,
     Sunta hoga vo hi , jisse aksar khamoshi baat karti nazar aati hai  ll

      Ankhon mein Aksh joo aa gaye , tau vo IBADAT hoti nazar aati hai,
      Dil ke dard mein vo aur hawao mein uski khusboo nazar aati hai ll

      Ishq mujhe use se hoo chala , abb tau meri halat deewani se nazar aati hai,
      jis gali se nikalo , vo gali bas uski yaad mein doobi nazar aati hai  ll


    sai sai sai
    neelam

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #257 on: April 20, 2007, 05:15:11 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    दुनिया में कहीं भी होता हो मगर,
    दोस्त का घर दूर कहाँ होता है!
    जब भी चाहूँ आवाज लगा लेता हूँ,
    "वो" मेरे दिल मे छुपा होता है!
    जाने कैसे "वो" दर्द मेरा जान लेता है,
    दुख पे मेरे "वो" भी रोता है! क्योंकि
    दुखों में सबसे मेरे करीब "वो" ही होता है।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #258 on: April 21, 2007, 08:44:13 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।
     
    "वो" मुझे हरा कर उसके बदले दे गया जिन्दगी

    "वो" मेरे दिल और दिमाग पर छा गया
    मुझे बहुत नाज़ था खुद पर
    "वो" मेरे गुरुर को खाक में मिला गया
    मरते रहे हुस्न वाले आज तक 
    मुझ पर "वो" मुझे अपना दीवाना बना गया 
    मोहब्बत करना मुझे कंहा आती थी
    "वो" मुझे मोहब्बत करना सिखा गया 
    जिन्दा रहने की कब तलब थी बाकी
    "वो" ज़िन्दा रहना सिखा गया 
    मै अन्धेरों में भटकता था
    "वो" मेरी ज़िन्दगी में श़मा जला गया
    दुखों भरी दास्तान थी मेरी
    "वो" मेरी झोली में खुशियाँ डाल गया
    मेरी हर ग़ज़ल उस के नाम
    "वो" मुझे और मेरे कलम को नई ज़ुबान सिखा गया।
    ऐसा है अपने सांई का अन्दाज़।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline tana

    • Member
    • Posts: 7074
    • Blessings 139
    • ~सांई~~ੴ~~सांई~
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #259 on: April 23, 2007, 05:37:12 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।
     
    "वो" मुझे हरा कर उसके बदले दे गया जिन्दगी

    "वो" मेरे दिल और दिमाग पर छा गया
    मुझे बहुत नाज़ था खुद पर
    "वो" मेरे गुरुर को खाक में मिला गया
    मरते रहे हुस्न वाले आज तक 
    मुझ पर "वो" मुझे अपना दीवाना बना गया 
    मोहब्बत करना मुझे कंहा आती थी
    "वो" मुझे मोहब्बत करना सिखा गया 
    जिन्दा रहने की कब तलब थी बाकी
    "वो" ज़िन्दा रहना सिखा गया 
    मै अन्धेरों में भटकता था
    "वो" मेरी ज़िन्दगी में श़मा जला गया
    दुखों भरी दास्तान थी मेरी
    "वो" मेरी झोली में खुशियाँ डाल गया
    मेरी हर ग़ज़ल उस के नाम
    "वो" मुझे और मेरे कलम को नई ज़ुबान सिखा गया।
    ऐसा है अपने सांई का अन्दाज़।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।


    ॐ सांई राम~~~

    रमेश भाई...सच  "वो" अपना सांई है ही ऐसा...अन्दाज़ ही निराला है अपने बाबा का...

    झुकना सिखाता है...और झुके हुए पेङो पर फल लगते है...

    सब कुछ ही सिखा गया मेरा सांई...शुक्रिया बाबा...

    जय सांई राम~~~

    « Last Edit: April 23, 2007, 07:01:56 AM by tana »
    "लोका समस्ता सुखिनो भवन्तुः
    ॐ शन्तिः शन्तिः शन्तिः"

    " Loka Samasta Sukino Bhavantu
    Aum ShantiH ShantiH ShantiH"~~~

    May all the worlds be happy. May all the beings be happy.
    May none suffer from grief or sorrow. May peace be to all~~~

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #260 on: April 23, 2007, 08:04:37 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    प्यार के एक पल ने जन्नत को दिखा दिया प्यार के उसी पल ने मुझे ताउम्र रुला दिया.....एक नूर की बूँद की तरह पीया मैने उस पल को भी.....क्योंकि उसी पल ने मुझे बाबा सांई के इतना क़रीब ला दिया !
     
    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई
    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #261 on: April 25, 2007, 08:53:22 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    मुश्किलों को करता जो आसान है,
    वो असल में ही तो इक इन्सान है
     
    ग़म से धबरा के जो हिम्मत छोड़े,
    बुज़दिली उसकी ही तो पहचान है

    ज़िन्दगी है एक दरिया दर्द का,
    दर्द से खेले वही इन्सान है।

    खुशहाली में सब यँहा जी लेते हैं,
    ग़म में जीना तो अलग एक शान है।

    हम बना सकते है खुद अपनी तकदीर को,
    गम हमी में जोश का एलान है।

    कहते है ये वक्त है एक धूप छांव,
    फिर भला क्यों आदमी हैरान है।

    खुद को जो समझे कि वो कमज़ोर हैं
    वो बहुत नादान है अन्जान है।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #262 on: April 26, 2007, 04:57:27 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    ज़िन्दगी कितनी खूबसूरत है

    ज़िन्दगी ज़िन्दगी क्या तेरा रूप है
    तू कभी छाँव है और कभी धूप है
    कभी लगती है तू मेरी सहेली,
    कभी लगती है तू मुझको पहेली,
    कभी लगती है भीड़ में गुनगुनाती
    लगती है गुमशुम अकेली
    तू ही मेरी धड़कन तू ही सांसें
    तू ही मेरे दिन है तू ही मेरी रातें
    तुझे देखने को तरसे है आंखें
    तुझे देखना अब मेरी खुशनसीबी है,
    ज़िन्दगी ज़िन्दगी वाह क्या तेरा रूप है
    बाबा सांई ये सब तेरा ही दिया हुआ स्वरूप है।

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #263 on: April 26, 2007, 09:09:43 PM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    कभी कभी इन आंखों
    में नमी सी होती है
    कभी कभी इन होंठों
    पे हंसी सी होती है
    ए मेरे बाबा -
    मेरे दोस्त.....मेरे हमदम
    वो तुम्ही हो
    जिससे मेरी ज़िन्दगी
    ज़िन्दगी सी होती है।

    Someone may kindly translate it for my Beloved Sister :-* Subhasrini dear :)

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॰ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Radha

    • Member
    • Posts: 647
    • Blessings 1
    • Ek tu hee sahara, ek tu hee bharosa...
    Re: You are my inspiration
    « Reply #264 on: April 26, 2007, 11:46:50 PM »
  • Publish
  • Jai Sai Ram!!!
    (I'll give it a try Ramesh bhai...thik na ho to thik karna...)

    For dear Subhasrini ji,

    "कभी कभी इन आंखों
    में नमी सी होती है
    कभी कभी इन होंठों
    पे हंसी सी होती है
    ए मेरे बाबा -
    मेरे दोस्त.....मेरे हमदम
    वो तुम्ही हो
    जिससे मेरी ज़िन्दगी
    ज़िन्दगी सी होती है।"

    At times my eyes are bedewed with tears, at times a soft smile plays on my lips...but its only You 'Baba' my Friend and my Soulmate Who makes my life worthwhile.

    Om Sai Ram!!!
    Radha.

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #265 on: April 27, 2007, 12:35:34 AM »
  • Publish
  • JAI SAI RAM!!!

    Thats very nice of you Radha Dear...At times our beloved sister Subhasriniji misses out many of my hindi post for want of her hindi language.  Its very good to see this translation.  I will highly be obliged if you take this work and whenever you are free you can translate some of my hindi post in english for Subhasrini. Will it be OK Radha?  Are you ready to bear this responsibility?  You told me you are a teacher by profession.  Isn't?

    OM SAI RAM!!!
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Radha

    • Member
    • Posts: 647
    • Blessings 1
    • Ek tu hee sahara, ek tu hee bharosa...
    Re: You are my inspiration
    « Reply #266 on: April 27, 2007, 12:59:55 AM »
  • Publish
  • Jai Sai Ram!!!
    Ramesh bhai,
    That would be an honour for me.....I will as much as and whenever possible.Thank you very much.
    Om Sai Ram!!!
    Radha.

    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #267 on: April 28, 2007, 11:47:33 PM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    मित्रता मेरी....मेरे सांई से

    एक रिश्ता है ऐसा
    बिल्कुल अनोखा हो जैसा,
    स्वार्थ से अछूता,
    समन्दर से गहरा हैं वो
    जाति पाँति के बन्धनों से परे
    धर्मों के आडम्बरों से दूर है जो
    कहते हैं जिसे हम मित्रता,
    क्या विश्वास है और
    कितनी भरी है इसमें मधुरता
    सुख मे भले ना
    वो दिखलाये,
    पर दुःख में हमेशा,
    दोस्त काम आये
    औपचारिकता से
    परे है जो,
    दिल के कितने करीब है वो
    कह ना सके जो
    बात किसी से,
    दोस्तों से कह जाते हैं
    कितनी सहजता से उसे
    भरोसे का अटूट
    आधार है जो,
    मुसीबतों में खडा
    चट्टान है वो
    जिसकी देतें हैं
    लोग मिसालें,
    दोस्ती और दोस्त ही हैं

    'बाबा सांई' मेरे यार,
    जो मेरे जीवन रुपी
    नाटक में
    अदा करते हैं,
    एक महत्वपूर्ण किरदार
    वो भी दोस्तों!
    एक नहीं अनेकों बार

    My dearest sister Radha has to work overtime now on >:(

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

    Offline Radha

    • Member
    • Posts: 647
    • Blessings 1
    • Ek tu hee sahara, ek tu hee bharosa...
    Re: You are my inspiration
    « Reply #268 on: April 29, 2007, 02:20:40 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    मित्रता मेरी....मेरे सांई से

    एक रिश्ता है ऐसा
    बिल्कुल अनोखा हो जैसा,
    स्वार्थ से अछूता,
    समन्दर से गहरा हैं वो
    जाति पाँति के बन्धनों से परे
    धर्मों के आडम्बरों से दूर है जो
    कहते हैं जिसे हम मित्रता,
    क्या विश्वास है और
    कितनी भरी है इसमें मधुरता
    सुख मे भले ना
    वो दिखलाये,
    पर दुःख में हमेशा,
    दोस्त काम आये
    औपचारिकता से
    परे है जो,
    दिल के कितने करीब है वो
    कह ना सके जो
    बात किसी से,
    दोस्तों से कह जाते हैं
    कितनी सहजता से उसे
    भरोसे का अटूट
    आधार है जो,
    मुसीबतों में खडा
    चट्टान है वो
    जिसकी देतें हैं
    लोग मिसालें,
    दोस्ती और दोस्त ही हैं

    'बाबा सांई' मेरे यार,
    जो मेरे जीवन रुपी
    नाटक में
    अदा करते हैं,
    एक महत्वपूर्ण किरदार
    वो भी दोस्तों!
    एक नहीं अनेकों बार

    My dearest sister Radha has to work overtime now on >:(

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई



    ॐ सांई राम।।।

     :) Jai Sai Ram!!!
    Ramesh bhai,
    Meree Baba se deal ho gayi hain...filhaal mujhe probation par rakh diya hain..once consolidated I will be remunerated!!!

    "My Life is touched with the grace of a special friendship. The intensity of which is deeper than the oceans and untouched by the narrow standards of the world. It is as sweet as nectar and soft as a gentle breeze and It stands undaunted and unaffected during storms. It might not be there to share your moments of joy, but will unfailingy carry you in times of distress. It holds the most special place in my life and unhesitatingly I can reveal my deepest secrets to Him.
    In my life's play...MY SAI has enacted many a roles, not just once but a million times".


    Ramesh bhai and Subhasrini ji, I am not sure how far am I able to convey the correct message accross. Please do not hesitate to check me, if I am going wrong.
    Vaise bhi probationary period hain....
    Om Sai Ram!!!
    Radha.


    Offline Ramesh Ramnani

    • Member
    • Posts: 5501
    • Blessings 60
      • Sai Baba
    Re: You are my inspiration
    « Reply #269 on: May 02, 2007, 12:15:30 AM »
  • Publish
  • जय सांई राम।।।

    तेरा ख्याल दिल से जुदा कर ना पाऊंगा...
    मै आंसूओं के बीच भी अब मुसकराऊगा...
    एक नाम दे के तूने मालामाल कर दिया...
    इस जन्म को अब आखिरी दम तक निभाऊगा...

    सब कुछ खुदा से मांग लिया तुझको मांग कर...
    रब से दुआ के हाथ ना अब फिर ऊठाऊगा...
    मुझको खुदा ना आया कभी रास...
    सांई माँ अब जब आप खुद मिल गये हो...
    तो खाक ए खुदा को भूल जाउगा....

    अपना सांई प्यारा सांई सबसे न्यारा अपना सांई

    ॐ सांई राम।।।
    अपना साँई प्यारा साँई सबसे न्यारा अपना साँई - रमेश रमनानी

     


    Facebook Comments